माओवाद का मुकाबला मोबाइल से, प्रदेश में लगेंगे 1028 मोबाइल टावर

बीबीसीखबर, छत्तीसगढ़Updated 30-05-2018
माओवाद

छत्तीसगढ़ के चेहरे पर लगे माओवादियों के दाग से छुटकारा दिलाने के लिए सरकार कई प्रकार की योजनाओं पर काम कर रही है. अब माओवाद का मुकाबला मोबाइल से करने की तैयारी की है. केंद्र सरकार देशभर के माओवाद प्रभावित जिलों में कुल 4072 नए मोबाइल टावर लगा रही है. इन सभी पर करीब कुल 7 हजार 3 सौ 30 करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे. 4072 में से 1028 मोबाइल टावर छत्तीसगढ़ में लगाए जाएंगे.


दरअसल, माओवाद प्रभावित क्षेत्र में मोबाइल कनेक्टिविटी की कमी के कारण जंगलों और मोर्चों पर तैनात जवानों से संपर्क नहीं हो पाता और कई बार माओवादी हमले की जानकारी देर से आती है, जिससे सुरक्षा बलों को काफी नुकसान उठाना पड़ता है. इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए केंद्र और राज्य सरकारों ने मोबाइल कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए कार्य कर रही है. मगर ऐसा नहीं है कि माओवाद प्रभावित क्षेत्रों में नए मोबाइल टावर लगाना इतना आसान है. छत्तीसगढ़ में ही ऐसे 50 से अधिक गांव हैं जहां मोबाइल टावर लगाने में काफी परेशानी हो रही है और इस बात को खुद केंद्रीय राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने स्वीकार किया है.

कहते हैं दो तरफा संचार सही निर्णय लेने में सहायक होती है और इसी बात को ध्यान में रख कर सरकारें काम तो कर रही है. मगर माओवाद के दाग से मुक्ति इतना भी आसान नहीं है जितना सरकारों को लग रहा है. बहरहाल देखना होगा माओवाद का मुकाबला मोबाइल से कितना सफल हो पाता है.
 

Follow Us