इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतने के लिए करनी होगी मशक्कत

बीबीसीखबर, क्रिकेटUpdated 23-07-2018
इंग्लैंड

 गणेश मिश्रा बीबीसी खबर ।

नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच एक अगस्त से पांच मैचों टेस्ट सीरीज खेली जानी है। टीम इंडिया के लिए इंग्लैंड का दौरा हमेशा से ही सबसे खतरनाक दौरा रहा है। इंग्लैंड में गेंद का हवा में स्विंग करना बल्लेबाजों के लिए बहुत घातक साबित होता है। इसी की वजह से टीम इंडिया को पहले दो दौरों में हार का मुह देखना पड़ा था, लेकिन इस बार टीम में युवा खिलाड़ियों के साथ-साथ मानसिक मजबूती, कूलनेस और आक्रामकता है। इन सबके साथ-साथ टीम आत्मविश्वास से भरी है। 
टी-20 सीरीज जीतने के बाद भारतीय टीम का अगला मिशन इंग्लैंड को 5 टेस्ट मैचों की सीरीज में कड़ी टक्कर देना है। टीम इंडिया इस समय की सबसे बेहतर और संतुलित टीम है। हालांकि, यही टीम दक्षिण अफ्रीका में जाकर टेस्ट सीरीज हार गई थी। उम्मीद है, कि टीम इंडिया अपनी उन गलतियों को सुधार कर इंग्लैंड के खिलाफ मजबुत इरादों के साथ उतरेगी जो   उसे विजेता बना सकती है । 

भारत को स्पिनर्स ने दिलाई जीत 
पिछले कुछ समय से भारतीय टीम के स्पिनरों ने विपक्षी टीमों की कमर तोड़कर रख दी है। पिछले कई मैचों से कप्तान विराट कोहली ने टीम में दो से तीन स्पिनरों को खेलने की जगह दी है, लेकिन इंगलैंड की पिच ऐसी नहीं है, जहां स्पिनरों को मदद मिलेगी। टीम में केवल एक ही रिस्ट स्पिनर 'चाइनामैन' कुलदीप को जगह मिल सकती है। कुलदीप यादव ने हाल ही में खेली गई वनडे सीरीज में इंग्लैंड के बल्लेबाजों को काफी परेशान किया था, उम्मीद है कि वह टेस्ट मैचों में भी इंग्लैंड के बल्लेबाजों को आसानी से नहीं खेलने देंगे. कुलदीप ने अब तक दो टेस्ट मैचों में 9 विकेट चटकाए । 

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट टीम इंडिया : 
विराट कोहली, शिखर धवन, केएल राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, करुण नायर, दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, हार्दिक पांड्या, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर.

 

Follow Us