यूट्यूब की मदद से डिलीवरी करना पड़ा महंगाए चंद सेकंड में खत्म हो गई जिंदगी

बीबीसीखबर, सोशल नेटवर्कUpdated 27-07-2018
यूट्यूब

 सुष्मिता शुक्ला बीबीसी खबर

इंटरनेट को आज के समय में पूरी दुनिया प्रयोग में ला रही है,फिर चाहे वो किसी भी उम्र का हो। इंटरनेट को हम एक माध्यम के रूप में प्रयोग में लाते है इसके द्वारा हम तमाम चीजों को सर्च करने के लिए करते है। लेकिन कुछ चीजों से हमे फायदा होता है तो कुछ नुकसान। ऐसा ही इंटरनेट का एक मामला सामने आया है मामला तमिलनाडु के तिरूपुर का है जहां पर एक महिला ने इंटरने के द्वारा डिलीवरी के समय दम तोड़ दिया। 
यह मामला 22 जुलाई का बताया जा रहा है। क्रिथिगा नाम की एक महिला जो एक स्कूल की अध्यापिका  थी उसकी एक बेटी भी थी। क्रिथिगा के परिवार को आधुनिक तकनीकों पर विश्वास नही था इसलिए वे यूट्यूब के माध्यम से अपने बच्चे की डिलीवरी घर में करने की बात कही। थोडे़ दिन पहले उसकी सहेली की भी घर पर ही डिलीवरी हुई थी इसलिए उसका मन और मजबूत हो गया, हालांकि उसका यह फैसला जानलेवा साबित हो गया।
खबरों के अनुसार बच्चा पैदा होने के बाद क्रिथिगा के ब्लीडिंग ज्यादा होने लगी जिससे उसकी मौत हो गई 
महिला के पिता ने बताया कि क्रिथिगा का पहला बच्चा अस्पताल में हुआ था। इस मामले में सीनियर पुलिस अधिकारी ने एक वीडियों देखा जिसमें यूट्यूब के माध्यम से डिलीवरी की बात उसने खुद कही थी।

Follow Us