ग्रहों का गुरू होता है बृहस्पति , इन उपायों से दूर होंगी धन विवाह संबंधी बाधाएं

बीबीसीखबर, धर्मUpdated 04-08-2018
ग्रहों

 दिव्यांका शुक्ला , बीबीसी खबर

सावन का महीना चल रहा है जो कि शिवजी का प्रिय माह माना जाता है। इस समय  गुरुवार का विशेष महत्व होता है। गुरुवार का कारक ग्रह गुरु है और यदि कुंडली में गुरु ग्रह संबन्धित कोई दोष हो तो विवाह और भाग्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ता है तो गुरु ग्रह के दोषों की शांति के लिए सावन मास में गुरुवार को कुछ खास उपाय किए जा सकते हैं । गुरु ग्रह को बृहस्पति भी कहा जाता है, जो देवताओं के गुरु भी हैं। ऐसे कुछ उपाय है जो आज हम आपको बताने जा रहे है ,जिससे  धन, संपत्ति, विवाह और भाग्य संबंधी समस्याएं दूर हो सकती हैं।
1. गुरु मंत्र  ॐ बृं बृहस्पते नम: का जाप कम से कम 108 बार करे ।
2. गुरुवार को गुरु ग्रह के लिए व्रत रखें।गुरुवार के दिन पीले कपड़े पहनें। बिना नमक का खाना खाएं। पीले रंग का भोजन  जैसे बेसन के लड्डू, आम, केले ले ।
3. गुरु बृहस्पति की  पूजा करें और उनपर पीले पकवान या फल चढ़ाएं।
4. केले के वृक्ष के नीचे  गुरुवार की शाम को दीपक जलाएं। 
5.  पीली वस्तुओं का दान करें।
6. गुरुवार जल्दी उठकर स्नान के बाद भगवान विष्णु के सामने घी का दिया जलाएं।
7.  पूजा के बाद स्वयं के माथे पर  तिलक लगाएं । 
8. बेसन के लड्डू का भोग शिवजी को लगाएं। इन  उपायों  से गुरु ग्रह के दोष दूर होते हैं।
 

Follow Us