छात्रों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए प्राइवेट कॉलेज की फीस होगी एक समान

बीबीसीखबर, मध्य प्रदेशUpdated 09-08-2018
छात्रों

 

सुष्मिता शुक्ला बीबीसी खबर

जेयू ने प्राइवेट सभी कॉलेजों की फीस एक समान करने की शुरूआत कर दी है। इसके लिए विश्वविद्यालय ने एक प्रोफार्मा तैयार किया है, जिसे आने वाले 3 दिनों में जारी कर दिया जाएगा। जीवाजी विश्वविद्यालय अंचल के सभी प्राइवेट कॉलेजों की फ़ीस एक जैसी करने वाली है। इसके लिए पहले सभी जेयू से सम्बद्ध प्राइवेट कॉलेजों से पूछा जाएगा कि कॉलेज में कितने छात्र हैं और क्या-क्या सुविधाएं छात्रों को उपलब्ध कराई जा रही हैं।

पूरी तरह से जांच के बाद ही यह प्रकियां शुरू किया जायेगा। अभी अंचल के सभी प्राइवेट कॉलेजों की फ़ीस अलग अलग है। किसी कॉलेज में यूजी की फ़ीस 6 हजार से 10 हजार है

तो किसी बड़े कॉलेज में ये बढ़कर 15 से 25 हजार है।  इसी अंतर को जेयू जल्दी ही दूर करेगी। खबर आने के बाद छात्रों की फीस निर्धारण समिति के सामने बैठकर तय कराई जाएगी। 

चार महीने पुराना है आदेश
उच्च शिक्षा विभाग ने चार महीने पहले प्रदेश के विश्वविद्यालयों से सम्बद्ध प्राइवेट कॉलेजों की फीस एक समान करने के आदेश दिए थे। यह भी कहा गया था कि विश्वविद्यालय इसे अपने स्तर पर करे। अब जीवाजी विश्वविद्यालय ने इस पर अमल शुरू किया है। कार्यपरिषद की बैठक में इसे मंजूर किया जा चुका है।

Follow Us