मोबाइल गेम खरीदने के लिए सरकार के 62 लाख रुपये चुराए

बीबीसीखबर, अमेरिकाUpdated 22-08-2018
मोबाइल

 दिव्यांका शुक्ला , बीबीसी खबर 

अमेरिका में एक रिटायर्ड लाइब्रेरियन ने मोबाइल गेम खरीदने के लिए सरकार के 9000 डॉलर मतलब कि 62 लाख रुपये चुरा लिए अदालत ने उसे पैसे लौटाने के एवज में 30 दिन जेल की सजा सुनाई है । साथ ही युवक को 100 घंटे सामुदायिक केंद्र में सेवा करने का भी आदेश दिया । पुलिस के मुताबिक 38 साल के एडम विंगर ने  नगर प्रशासन के क्रेडिट कार्ड के जरिए अमेजॉन , आईट्यून्स और गूगल के गिफ्ट कार्ड खरीदें और उनके डिजिटल करेंसी खरीदी "गेम ऑफ वार "नाम का गेम खरीदा ।
बनाएं नकली बिल
आमतौर पर नगर प्रशासन के क्रेडिट कार्ड सार्वजनिक कामों  में खर्च के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं ,लेकिन विंगर ने प्रशासन के पैसे खर्च करने के बाद क्रेडिट कार्ड के नकली बिल बना लिए थे । यह बिल प्रशासन के नाम पर बैंक में जमा किए , ताकि ये सरकार के पैसे से खरीदा गया है ये जानकारी जा सके । उनकी इस हरकत के बाद कोर्ट ने उसे पैसे वापस लौट आने के बाद भी सजा दी  है ।
आम लाइब्रेरियन का काम
विंगर 3 सालों तक नॉर्थ लोगन शहर की लाइब्रेरी में डायरेक्टर पद पर थे । इसी साल गर्मियों में चोरी का खुलासा होने के बाद उन्हें प्रशासनिक छुट्टी पर भेज दिया गया था , जिसके बाद उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा । जून में उन्होंने कोर्ट में अपना गुनाह भी कबूल किया था ।  उन पर चोरी के साथ धोखाधड़ी का भी मामला दर्ज किया गया था । गेम ऑफ वॉर दुनिया भर में काफी लोकप्रिय गेम है ।  इसे खेलने के लिए लोगों को एक सब्सक्रिप्शन खरीदना पड़ता है । 2014 और 2015 के बीच इस गेम को काफी पसंद किया गया था , जिसके चलते इन 2 सालों तक गेम बनाने वाली कंपनी सबसे ज्यादा कमाई करने वाली गेमिंग कंपनियों में शामिल  रही थी ।

Follow Us