जुनून और अनुशासन का दूसरा नाम सफलता :अनुराग

बीबीसीखबर, दिल्लीUpdated 28-08-2018
जुनून

दिव्यांका शुक्ला ,बीबीसी खबर

नॉलेज पार्क 3 स्थित आईआईएमटी कॉलेज समूह में लॉ ,बीबीए, बीसीए, बी.कॉम और पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के नए सत्र के छात्र-छात्राओं के लिए ओरिएंटेशन कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।इस मौके पर आईआईएमटी कॉलेज समूह के प्रबंध निदेशक मयंक अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं से कहा कि आज से जो सफर आपका शुरु होगा उसमे आपकी सफलता का सबसे बड़ा पैमाना यही होगा कि आप कहीं थके नहीं ,कहीं रुके नहीं ।

इस दौरान जाने माने एंकर अनुराग दीक्षित ने  कहा कि आप ने एक ऐसे कोर्स का चुनाव किया है जिसमें जीवन भर आप समाज और मानवीयता से जुड़े रहेंगे। सफलता के लिए न केवल तीव्र बुद्धि की आवश्यकता होती है,बल्कि जुनून और अनुशासन सफलता का दूसरा नाम है। विद्या उद्देश्‍य ज्ञान के साथ अपने आचरण को भी उत्कर्ष बनाना है इसलिए छात्रो को अपने आचरण को इतना श्रेष्ठ  बनाना चाहिए कि लोग उनका अनुसरण करें।  

इस दौरान विशिष्ट अतिथि रेडिकल माइंड्स के सीएसओ और सीपीओ संदीप सोढी ने छात्र-छात्राओं को सच्चे मन से ज्ञानार्जन के द्वारा सफलता के शिखर पर पहुचनें का मंत्र सिखाया।

विद्यार्थियों के लिए आयोजित ओरिएंटेशन  कार्यक्रम में आईआईएमटी कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट के निदेशक डॉ राहुल गोयल ने  विद्यार्थियों का उत्साहवर्द्धन करते हुए  कहा कि अनुशासन ,समय का पालन और शिक्षकों का सम्मान आदि का विद्यार्थी विशेष रूप से ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि छोटी छोटी समस्याओं से डरे नहीं, उनका डटकर सामना करें , अपना लक्ष्य र्निधारित कर उसे पाने के लिए जी जान से जुट जाए।

पत्रकारिता एवं जनसंचार संकाय के डीन प्रोफेसर अनिल कुमार निगम ने कहा कि सफलता और असफलता से उपर उठकर कठिन परिश्रम पर ध्यान देना चाहिए। अगर आप ऐसा करेंगे तो निश्चय ही सफलता आपके कदम चूमेंगी।

आईआईएमटी कॉलेज ऑॅफ ला के निदेशक डॉ पंकज द्विवेदी ने छात्र-छात्राओं को विधिक जीवन की चुनौतियों से अवगत कराते हुए चारित्रिक निर्माण द्वारा व्यवसायोन्मुख सोच के निर्माण करने पर बल दिया ।

कार्यक्रम को सफल बनाने में डॉ. मोनिका रस्तोगी ,प्रोफेसर राकेश जोली, डॉ.  अंशुल शर्मा , प्रोफेसर अमित शर्मा, प्रोफेसर सोमेश कुमार, प्रोफेसर जितेन्द्र कुमार, प्रोफेसर जितेन्द्र सिंघल आदि ने महत्व पूर्ण भूमिका निभाई।

Follow Us