पूरी हुई सचिन पायलट की कसम

बीबीसीखबर, जयपुरUpdated 17-12-2018
पूरी

 बीबीसी खबर

2014 के लोकसभा में राजस्थान के कांग्रेस से साफ हो जाने और खुद अपना चुनाव हारने के बाद सचिन पायलट ने एक कसम खाई थी, वह कसम अब पूरी हो गई है। सचिन ने कसम खाई थी कि कांग्रेस सत्ता में लौटेगी तभी वह अपने सिर पर साफा बांधेंगे। सोमवार को उपमुख्यमंत्री के रूप में

शपथ लेने पहुंचे सचिन ने अपने सिर पर साफा बांधा। 

बता दें कि सचिन पायलट ही राजस्थान में कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष हैं और उन्हीं के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ा गया। पायलट मुख्यमंत्री तो नहीं बने लेकिन सोमवार को अल्बर्ट हॉल प्रांगण में उन्होंने उपमुख्यमंत्री के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ ली। शपथ के समय उन्होंने पारंपरिक राजस्थानी साफा पहना हुआ था। 

पायलट ने पिछले दिनों बताया था कि 2014 में पार्टी की हार के बाद उन्होंने प्रण लिया था कि जब तक कांग्रेस सत्ता में वापसी नहीं करेगी, वह साफा नहीं पहनेंगे। उन्होंने खुद को साफे से दूर करने का फैसला किया जो कि संस्कृति का एक प्रतीक है। उल्लेखनीय है कि राजस्थानी साफा राजस्थान में संस्कृति और परंपराओं का एक अभिन्न हिस्सा है। खासकर चुनाव प्रचार में तो हर पार्टी का हर नेता साफा पहनता है लेकिन प्रचार अभियान के दौरान जब भी सचिन पायलट को लोगों और उनके समर्थकों ने स्वागत के रूप में साफा भेंट किया तो पायलट उसे माथे से लगाकर रख दिया करते थे। 

पायलट ने जनवरी 2014 में प्रदेश अध्यक्ष का पदभार संभाला जबकि 2013 के विधानसभा चुनाव और 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी राज्य में बुरी तरह पराजित हुई। इस विधानसभा चुनाव में पायलट ने टोंक सीट से जीत दर्ज की। यह उनका पहला विधानसभा चुनाव था और उन्हें राज्य का उपमुख्यमंत्री बनाया गया है।

Follow Us