सर्दी, खांसी, बुखार से छुटकारा पाने के लिए अपनाए घरेलू नुस्खे

बीबीसीखबर, घरेलू नुस्‍खेUpdated 30-01-2019
सर्दी,

 बीबीसी खबर

इस मौसम में लोगों में देखा गया है कि सर्दी, खांसी, बुखार जैसी बीमारियों का शिकार आसानी से हो जाते हैं. तो, ऐसे में आपको डरने या फिर घबराने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि आपके लिए कुछ घरेलू नुस्खे लेकर आएं हैं. जिन्हें अपनाने के बाद आप चुस्त और दुरुस्त हो जाएंगे. इसके लिए बस आपको लौंग, तुलसी, काली मिर्च और अदरक से बनी चाय पीनी पड़ेगी. जो कुछ देर में ही आपकी खांसी, सर्दी, जुकाम को छु कर देगी.

हाल ही में बॉल्सब्रिज विश्वविद्यालय से पीएचडी की मानद उपाधि से सम्मानित सुनील कुमार दूबे ने मीडिया से कहा है कि इन बीमारियों का मुख्य कारण वायरस का बढ़ता प्रसार होता है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जुकाम एक फैलने वाली बीमारी है जो बहुत जल्दी बढ़ती है. यह बीमारी बहती नाक, बुखार, सुखी या गीली खांसी अपने साथ लाती है, जो स्वास्थ पर अचानक हमला करती है.


वो आगे कहते हैं कि कॉमन कोल्ड में बच्चों और बुजुर्गों को खास ध्यान रखना चाहिए. वहीं, सर्दियों में शहद का सेवन करने से कई तरह के रोगों से लड़ने की शक्ति मिलती है. आपको बता दें कि आयुर्वेद में शहद को अमृत माना गया है. रात में सर्दी, जुकाम के कारण सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से यह खत्म हो जाती है.

मानद उपाधि प्राप्त दूबे ने मीडिया से कहा, "सर्दियों में मछली और सूप भी बेहद कारगर है. खाने में अदरक के प्रयोग से शरीर तो गरम होता ही है, साथ में पाचन क्रिया भी अच्छा होता है."


साथ ही आंवला डायबिटीज से परेशान लोगों के लिए किसी अमृत से कम नहीं है. आंवला का उपयोग 5000 साल से होता आ रहा है और इससे कई रोगों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता था. आंवला में विटामिन सी, विटामिन एबी, पोटैशिम, कैलशियम, मैग्नीशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और डाययूरेटिक एसिड होते हैं. आंवला और मूंगफली सर्दियों में फायदेमंद होता है. आखिर में ये भी बताया कि खजूर को दूध के साथ खाने पर सर्दी से बहुत हद तक राहत मिलती है.

 

Follow Us