अन्ना ने दो दिन से ज्यादा अनशन को जारी रखा तो हो सकता हैं खतरनाक

बीबीसीखबर, स्पॉटलाइटUpdated 31-01-2019
अन्ना

 बीबीसी खबर: महाराष्ट्र

समाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे द्वारा बुधवार को लोकपाल और लोकायुक्त की नियुक्ति के लिए शुरू किए गए अनशन का आज (गुरुवार) दूसरा दिन है। दूसरे दिन की शुरूआत अन्ना के शरीर की डॉक्टरी जांच के साथ शुरू हुई। उनकी जांच करने वाले डॉक्टर ने बताया कि अन्ना की उम्र को देखते हुए वे दो दिन से ज्यादा अगर इस अनशन को जारी रखते हैं तो वह खतरनाक हो सकता है।

 अन्ना हजारे को समझाने लिए जा रहे प्रदेश के जलसंसाधन मंत्री गिरीश महाजन बुधवार को हवाई पट्टी से वापस लौट आए। अन्ना के मना करने के बाद महाजन को रालेगण सिद्धि का दौरा टालना पड़ा। इसके बाद महाजन ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार ने अन्ना की 80 प्रतिशत मांगों को मंजूर कर लिया है। 

 

एक महीने में होगा लोकपाल की नियुक्ति पर फैसला: उन्होंने बताया कि राज्य मंत्रिमंडल ने मुख्यमंत्री को लोकायुक्त के जांच के दायरे में लाने के फैसले को मंजूरी दी है। महाजन ने कहा कि लोकपाल नियुक्ति की मांग पर एक महीने में फैसला कर लिया जाएगा। इसलिए अन्ना को अनशन नहीं करना चाहिए। 

 

महाजन आज आ सकते हैं अन्ना से मिलने: महाजन ने कहा कि मेरी अन्ना से लागातर बातचीत चल रही थी। इसके बावजूद उन्होंने अनशन शुरू कर दिया है। मैं अगले एक से दो दिनों में उनसे मिलने के लिए रालेगणसिद्धि जाऊंगा। उन्होंने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी उनसे बातचीत करेंगे।

 

महाजन ने कहा कि अन्ना को अपनी सेहत को देखते हुए अनशन करना ठीक नहीं होगा। महाजन ने दावा किया कि अन्ना के अनशन के कारण भाजपा को चुनावों में कोई असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अन्ना का अनशन राजनीति से प्रेरित नहीं है। उनका उद्देश्य प्रमाणिक है, लेकिन उन्हें सरकार को भी समझना चाहिए।

 

Follow Us