5 लाख तक की आमदनी को टैक्स के दायरे से बाहर रखने के फैसला

बीबीसीखबर, बिज़नेस डायरीUpdated 01-02-2019
5

 बीबीसी खबर

कार्यवाहक वित्त मंत्री के इस बजट से मिडिल क्लास टैक्स पेयर्स के लिए बड़ी सौगात निकली। 5 लाख तक की आमदनी को टैक्स के दायरे से बाहर रखने के फैसले के साथ ही संसद का माहौल भी पूरी तरह से बदल गया। देर तक बीजेपी सांसद मेज थपथपाते रहे और वाह-वाह के नारे लगाते दिखे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी काफी देर तक मेज थपथपाया। बीच में कुछ बीजेपी सांसदों ने मोदी-मोदी के भी नारे लगाए। 

'थैंक्यू टैक्स पेयर्स' से भूमिका बनाकर किया ऐलान 
इनकम टैक्स में छूट की घोषणा के साथ ही संसद का माहौल बिल्कुल बदल गया। मेज थपथपाने और लगातार वाह-वाह के बीच पीयूष गोयल को कुछ देर के लिए अपना बजट भाषण रोकना ही पड़ा। टैक्स देनेवाले भारतीय नागरिकों का पहले गोयल ने शुक्रिया अदा किया और मिडिल क्लास को देश की तरक्की का बहुत बड़ा भागीदार बताया। 'थैंक्यू टैक्सपेयर्स' की भूमिका के बाद वित्त मंत्री ने छूट का ऐलान किया। 


इस ऐलान के साथ ही संसद का माहौल बिल्कुल बदल गया। विपक्षी सांसदों की ओर देखते मोदी सरकार के मंत्रियों और सांसदों ने जमकर मेज थपथपाई। विपक्ष के लिए इस घोषणा पर प्रतिक्रिया देने के लिए कुछ खास नहीं था, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चुपचाप नजर आए। दूसरी तरफ बीजेपी के वरिष्ठ मंत्री रविशंकर प्रसाद, सुषमा स्वराज भी लगातार कुछ मिनट तक मेज थपथपाकर अपने वित्त मंत्री का आभार जताया। 

Follow Us