रेल की पटरी में आयी दरार के कारण सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पटरी से उतरे , हादसे में सात लोगों की मौत 30 घायल

बीबीसीखबर, बिहारUpdated 03-02-2019
रेल

 बीबीसी खबर

बिहार के वैशाली जिले में रेल की पटरी में आयी दरार के कारण सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पटरी से उतर गए। हादसे में सात लोगों की मौत हो गई जबकि 30 अन्य घायल हो गए। घायलों में कुछ की हालत गंभीर बताया जा रही है। 12487 जोगबनी-आनंद विहार टर्मिनल सीमांचल एक्सप्रेस दिल्ली आ रही थी। रविवार तड़के करीब चार बजे वैशाली जिले के सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के पास उसके 11 डिब्बे पटरी से उतर गए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हादसे में मरने वालों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए ईश्वर से उन्हें यह तकलीफ सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की है। वैशाली के जिलाधिकारी राजीव रौशन ने बताया कि हादसे में सात लोगों की मौत हुई है। वैशाली के सिविल सर्जन डॉक्टर इंद्रदेव रंजन ने बताया कि हादसे में मारे गए सात में से छह लागों की पहचान सायदा खातून :45:, अंसर आलम :21:, सुदर्शन दास :60:, इल्चा देवी :60:, इन्द्रा देवी :65: और समसुद्दीन आलम :25: के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को पटना मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। अन्य लोगों को इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्रेन दुर्घटना में लोगों की मौत पर दुख जताते हुए कहा, ‘‘सीमांचल एक्सप्रेस की बोगियों के पटरी से उतरने के कारण हुई लोगों की मौत से बहुत दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’’ उन्होंने ट्वीट किया कि रेलवे, एनडीआरएफ और स्थानीय प्रशासन हरसंभव मदद कर रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्रेन दुर्घटना गहरा दुख व्यक्त करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से पीड़ित परिवारों को हर प्रकार की सहायता मुहैया कराने की अपील की। उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, ‘‘मैं बिहार में हुई ट्रेन दुर्घटना से बेहद दुखी हूं। मैं इस दुर्घटना से पीड़ित परिवारों के प्रति गहरा दुख व्यक्त करता हूं और मेरी सवेदनाएं उनके साथ हैं।’’ पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि सोनपुर रेल मंडल अंतर्गत बरौनी- बछवारा-हाजीपुर सिंगल रेल लाइन से मेहनार रोड स्टेशन से रविवार तड़के प्रात: तीन बजकर बावन मिनट पर गुजरने के बाद जोगबनी-आनंद विहार टर्मिनल सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन के 11 डिब्बे सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के समीप तीन बजकर अट्ठावन मिनट पर पटरी से उतर गए। कुमार ने बताया कि पहली नजर में हादसा पटरी में आयी दरार के कारण हुआ है। इसकी जांच सीआरएस (पूर्वी क्षेत्र) लतीफ खान करेंगे। उन्होंने बताया कि हादसे में सुरक्षित बचे 12 डिब्बों सहित ट्रेन को सुबह नौ बजकर बावन मिनट पर रवाना कर दिया गया। इसमें आगे और 11 डिब्बे जोड़े जाएंगे। उन्होंने बताया कि सभी यात्रियों को चाय, भोजन और पीने का पानी उपलब्ध कराया गया है। जो लोग ट्रेन से आगे की यात्रा पूरी नहीं करना चाहते हैं उनके पैसे वापस करने का भी इंतजाम कर दिया गया है। कुमार ने बताया कि इस हादसे को लेकर तीन हेल्पलाइन नंबर : सोनपुर 06158221645, हाजीपुर 06224272230, बरौनी 06279232222 और पटना में 06122202290, 06122202291, 06122202292 एवं 06122213234: जारी किए गए हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दुर्घटना में मारे गए लोगों के लिए शोक व्यक्त करते हुए अनुग्रह और सहायता राशक की घोषणा की है। गोयल के कार्यालय ने ट्वीट किया है कि दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजन को पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। वहीं गंभीर रूप से घायलों में प्रत्येक को एक-एक लाख रुपये, जबकि कम जख्मी लोगों को 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। सभी घायलों के इलाज का खर्च रेलवे वहन करेगा।

Follow Us