महिला शिक्षक को दो साल पहले 10वीं की छात्रा को क्लास में डांटना पड़ गया महंगा

बीबीसीखबर, जोधपुरUpdated 08-02-2019
महिला

 बीबीसी खबर

एक निजी स्कूल की महिला शिक्षक को दो साल पहले 10वीं की छात्रा को क्लास में डांटना महंगा पड़ गया। छात्रा ने बदला लेने के लिए शिक्षक की इंस्टाग्राम पर चार फेक आईडी बनाकर आपत्तिजनक फोटो के साथ भद्दे कमेंट पोस्ट कर दिए। शिक्षक को इसका पता तब चला, जब उनके रिश्तेदारों को इसके टैग आने शुरू हुए। इसकी शिकायत सदर बाजार पुलिस में की गई। पुलिस ने आरोपी छात्रा और उसके एक दोस्त को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया।

1.     

2.    थाना अधिकारी गजेंद्र सिंह ने बताया कि महिला शिक्षक ने रविवार को रिपोर्ट दर्ज कराई थी। 4-5 साल पहले  शिक्षक ने इंस्टाग्राम पर खुद की एक आईडी बनाई थी। इसका वे अब भी उपयोग कर रही हैं। कुछ महीने से उनके नाम से मिलती-जुलती फर्जी आईडी पर उनके आपत्तिजनक फोटो और भद्दे कमेंट होने लगे हैं। बदनाम करने के इरादे से फर्जी आईडी से रिश्तेदारों को भी टैग किया गया।

3.    गजेंद्र सिंह ने बताया कि आईटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर इसकी जांच शुरू कर दी थी। तीन-चार दिन की पड़ताल के बाद आडा बाजार निवासी हेली टाक (19) और उसके दोस्त पंकज बोहरा (21) को गिरफ्तार किया है। हेली एयर होस्टेस का कोर्स कर रही है।

4.    ऐसा कहा जा रहा है कि छात्रा ने शिक्षक की डांट को अपनी बेइज्जती मान रंजिश पाल ली थी। कुछ समय बाद शिक्षक ने स्कूल छोड़ दिया तो लड़की उनसे ट्यूशन लेने लगी। पांच महीने पहले उसने अन्य दोस्तों के साथ मिलकर इंस्टाग्राम पर शिक्षक के नाम से फर्जी आईडी बनाई और आपत्तिजनक भाषा में पोस्ट डालने शुरू कर दिए।

5.    शिक्षक को इसकी भनक लगी तो छात्रा को दोबारा डांटा। इस पर उसने दो-तीन नई फर्जी आईडी बनाकर टीचर के रिश्तेदारों को भी टैग कर दिया। पुलिस के मुताबिक, छात्रा का कहना था कि शिक्षक ने मेरे साथ ठीक नहीं किया था।

 

पीड़ित परिवार के अनुसार, फर्जी आईडी पर भद्दे कमेंट और फोटो आने के साथ ही शिक्षक के मोबाइल पर बेंगलुरू के एक नंबर से फोन भी आया था। उसने धमकाते हुए कहा कि वह हेली को परेशान करना बंद कर दे, नहीं तो अंजाम अच्छा नहीं होगा। इस कॉल में हेली का नाम आने पर शिक्षक का शक उस पर गया था।

 

पुलिस ने महिला के बयान और पड़ताल में पाया कि हेली महिला से ट्यूशन लेती थी। साक्ष्य जुटाकर पुलिस ने कड़ियां जोड़ींं और संदेह की पुष्टि होते ही हेली को पकड़ लिया। करीब तीन घंटे की पूछताछ में वह बार-बार बयान बदलती रही। इससे पुलिस का शक और पुख्ता हो गया। आखिरकार उसने अपनी गलती मान माफी मांगते हुए रोना शुरू कर दिया। बाद में पंकज को भी पकड़ लिया गया।

 

Follow Us