आप किस तरह से अपने पार्टनर के बदलते व्यवहार से झूठ का पता करें

बीबीसीखबर, रिलेशनशिपUpdated 06-03-2019
आप

 बीबीसी खबर

हर रिश्ते में एक विश्वास बहुत ज़रूरी है। लेकिन रिश्ते की यह नींव कमजोर पड़ जाती है जब आपके पार्टनर आपसे झूठ बोलते हैं या धोखा करते हैं। आप जानती हैं कि बेवफ़ाई से ज़्यादा चोट किससे पहुंचती हैं? पार्टनर की सच्चाई की अनिश्चितता से। लेकिन हम आपको ऐसा तरीका बताते हैं जिससे आप अपने पार्टनर की सच्चाई या झूठ का पता उनके व्यवहार से लगा सकती हैं। अगर आपको आपके पार्टनर पर जरा सी भी शक है तो सच्चाई के तह तक जरूर पहुंचे। क्योंकि रिश्ते में शक करना यानी आपके रिश्ते की नींव कमजोर पड़ने लगती है। तो आइए जानते हैं आप किस तरह से अपने पार्टनर के बदलते व्यवहार से झूठ का पता करें।

वह अपने रोजाना के व्यवहार से अलग तरीके से आपके साथ पेश आएगा। आप जब किसी के साथ काफी लंबे समय से रह रहे होते हैं तो आपको इस बात का पता होता है कि आपका पार्टनर किस स्थिति में कैसे पेश आएगा। लेकिन अचानक उसके व्यवहार में बदलाव आने लगता है। जब आपके पार्टनर का दूसरे के साथ अफेयर शुरू होता है तो वो अलग कमरे में आधे घंटे तक फोन पर बात करता है पर आपके पूछने पर कहने लगता है कि वो खबर पढ़ रहा था और मेल चेक कर रहा था।

एक पल में गुस्सा होना  या अत्यधिक अच्छा होना एक खतरे का निशान है। उसे छोड़ने का कोई वास्तविक कारण नहीं है, इसलिए वह एक कारण बनाता है ताकि आपको छोड़ सके। इसके लिए आए दिन वह आपसे लड़ाई करता रहेगा। वह हर समय बाहर जाता है। एक शानदार उदाहरण है। यदि वह कहीं जा रहा था और उसके पास इसे छिपाने का कोई कारण नहीं था, तो वह आपके साथ इस बारे में सबसे अधिक बात करेगा।

धोखा देने वाले पुरुष शारीरिक रूप से बदल जाते हैं। उनका प्यार गायब हो जाता है, उनकी मुद्रा बदल जाती है और उनकी पहली तरह की फिटनेस वापस आ रही होती है। वह एक साथी को आकर्षित करने के लिए खुद को तैयार कर रहा होता है। इसके अलावा, धोखेबाज़ पुरुष खुद की बहुत बेहतर देखभाल करना शुरू कर देते हैं और अपनी उपस्थिति पर बहुत गर्व करते हैं। जब आपके बिना घर से बाहर निकल रहा हो और इस दौरान वह अचानक अपने कपड़े प्रेस करने लगा हो, बालों को सहलाना साथ ही रोजाना शेविंग करने लगा हो तो इस बात को झूठलाइए मत बल्कि इसके पीछे का कारण ढूंढिए। 

स्वयं के लिए समय निकालना सामान्य बात है। लेकिन जब यह सामान्य चीज पैटर्न से बाहर होता है या अधिक से अधिक समय निकाला जाने लगता है तो इस इशारे को समझिए की कुछ और चल रहा है। देर से काम पर जाना, देर से उठना, अचानक फोन बंद हो जाना, और "रिश्तेदार" से बहुत देर तक बात करने का बहाना बनाना यह सब खतरे का निशान हैं। 

Follow Us