लोकसभा चुनाव 2019 के मैदान में इस बार कई सितारे आजमा रहे अपनी किस्मत

बीबीसीखबर, बॉलीवुडUpdated 09-04-2019
लोकसभा

 बीबीसी खबर

लोकसभा चुनाव 2019 के मैदान में इस बार कई सितारे अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। कुछ ने राजनीति सफर की इस साल से शुरुआत की तो कुछ कई साल से राजनीति में सक्रिय है। खास बात यह है कि सभी चुनाव जीतने के लिए अपना पूरा दमखम लगा रहे हैं। कोई खेतों में गेहूं की फसल काटने पहुंचा तो कोई ऑटो रिक्शा की सवारी कर लोगों को अपने खेमे में करने की कोशिश करता दिखा। तो चलिए आपको बताते हैं कि इस बार चुनाव में सेलिब्रिटी किन तरीकों को अपनाकर जनता को अपनी तरफ करने में जुटे हैं। 

बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर ने मुंबई उत्तर से कांग्रेस के टिकट पर अपना नामांकन दाखिल किया है। उनका भाजपा के गोपाल शेट्टी से मुकाबला है। उर्मिला चुनाव में बयानों से लेकर अपने लुक और तरीकों की वजह से भी चर्चा में बनी हुई है। कुछ दिन पहले वह ऑटो की सवारी करती हुई नजर आईं। वहीं गुड़ी पड़वा के दिन महाराष्ट्रियन लुक में दिखीं। सड़कों पर ढोल नगाड़ों के बीच डांस किया और वोट अपील भी की।

इस बीच उर्मिला ने ट्रोलर्स को मुंहतोड़ जवाब भी दिया। उर्मिला ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा था- 'बॉलीवुड में काम करने पर मुझे खुद पर गर्व है। लेकिन फिल्म इंडस्ट्री से होने के चलते मुझे ट्रोल किया गया। वे सोचते हैं कि मैं बॉलीवुड से हूं, मेरे पास दिमाग नहीं है।'

हेमा मालिनी ने साल 2014 में पहली बार मथुरा सीट से खड़ी हुई थीं और जीत दर्ज की थी। हेमा मालिनी फिर से चुनाव मैदान में उतरी हैं। इस बार भी हेमा मालिनी मथुरा सीट से मैदान में उतरी हैं। चुनाव प्रचार के दौरान हेमा मालिनी मथुरा के गांव देवसेरस पहुंचीं। गांव पहुंचते ही हेमा ने गेहूं के खेत में गेहूं काटे और फिर गट्ठर को उठा लिया। हेमा यही नहीं रुकीं। जनता को लुभाने के लिए हेमा मालिनी एक दिन आलू के खेत में भी जा पहुंचीं। ट्रैक्टर चलाकर खेत की जुताई भी की। यह तस्वीरें सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय रहीं।

भाजपा के टिकट पर आजमगढ़ से भोजपुरी एक्टर दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' चुनाव मैदान में उतरे हैं। निरहुआ की एक रैैली में जमकर हंगामा भी हुआ। दरअसल, जब  निरहुआ का काफिला रैली करते हुए आजमगढ़ के उमरी पट्टी गांव में पहुंचा तो ग्रामीणों ने काफिले को रोकने की कोशिश की। यह देख कर पुलिस ने ग्रामीणों को खदेड़ना शुरू किया। जिसके बाद ग्रामीण 'अखिलेश यादव जिंदाबाद' और 'निरहुआ तुम वापस जाओ' के नारे लगाने लगे। उधर, यह देख कर काफिले में शामिल भाजपा के समर्थकों ने ग्रामीणों को अपशब्द कहा। जिसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस और 'निरहुआ' के काफिले पर पथराव किया

Follow Us