दुनिया की सैर करने वाली नौसेना महिला अधिकारियों की टीम को नौसेना मेडल से किया गया सम्मानित

बीबीसीखबर, देहरादूनUpdated 10-04-2019
दुनिया

 बीबीसी खबर

        

नाविका सागर प्रक्रिमा अभियान के तहत दुनिया की सैर करने वाली नौसेना महिला अधिकारियों की टीम को नौसेना मेडल से सम्मानित किया गया है। यह सम्मान पश्चिमी नेवल कमान मुंबई में आयोजित एक समारोह के दौरान नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा के हाथों टीम के सदस्यों को दिया गया।

इससे पहले टीम को तैजिंग नौरजे राष्ट्रीय साहसिक खेल पुरस्कार, नारी शक्ति पुरस्कार सहित कई अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। भारतीय नौसेना के नाविका सागर परिक्रमा महत्वाकांक्षी अभियान को सफलतापूर्वक पूर्ण करने वाली छह भारतीय बालाओं (सभी नौ सेना अधिकारी) को नौ सेना मेडल से सम्मानित किया गया।


इस अभियान दल का नेतृत्व करने वाली उत्तराखंड की बेटी लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी मूल रुप से पौड़ी जिले के धूमाकोट के स्यालखेत (हाल निवास श्रीनगर) की रहने वाली है। इस दल में उनकी साथी ले. कमांडर प्रतिभा जामवाल (हिमाचल प्रदेश), ले. कमांडर पी स्वाति (आंध्र प्रदेश),  ले. पायल गुप्ता (देहरादून), ले. विजया देवी (मणिपुर), ले. बी ऐश्वर्या (तेलांगना) शामिल थीं।

दल ने 10 सितंबर 2017 से पाल नौका आईएनएसवी (इंडियन नेवल सेलिंग वेसल) तारिणी से समुद्री यात्रा शुरू की थी। समुद्र की विपरीत परिस्थितियों से जूझते और जानलेवा स्थानों को पार कर 21,600 समुद्री मील की दूरी तय कर दल 23 मई 2018 को वापस भारत पहुंचा।


10
अप्रैल को मुंबई में आयोजित समारोह में इन महिला अधिकारियों को एडमिरल सुनील लांबा ने मेडल पहनाया। समारोह में शामिल टीम लीडर कमांडर वर्तिका जोशी के पिता प्रो. पीके जोशी ने यह जानकारी दी।


प्रो. जोशी गढ़वाल विवि के स्कूल ऑफ एजूकेशन में कार्यरत है। कमांडर वर्तिका जोशी को नौ सेना मेडल प्रदान किए जाने पर विवि के शिक्षकों, अधिकारियों, कर्मचारियों व छात्रों सहित स्थानीय निवासियों ने खुशी जताई है। इस अभियान पर नेशनल जियोग्रफिक चैनल पर डॉक्यूमेंट्री भी प्रसारित की जा चुकी है। 

Follow Us