लड़के ने मां के साथ धोखा करने पर पिता की कर दी हत्या

बीबीसीखबर, देशUpdated 07-06-2019
लड़के

 बीबीसी खबर

मुंबई में एक 19 साल के लड़के ने अपने पिता की हत्या कर दी है। घटना गोरेगांव की बुधवार रात की मानी जा रही है। जानकारी के मुताबिक लड़के ने कथित तौर पर हत्या के लिए स्क्रूड्राइवर का इस्तेमाल किया था क्योंकि उसे शक था कि उसके पिता का किसी के साथ अफेयर चल रहा है।

डिप्टी कमिश्नर विनय राठौड़ ने इस बात की पुष्टि की है कि मुख्य आरोपी अजय पांडे को अपने पिता रमाई प्रसाद की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। पांडे के दो दोस्तों को भी गिरफ्तार किया गया है। संदेह है कि उन दोनों ने इस वारदात में उसका साथ दिया है। वहीं एक अन्य आरोपी फरार है।

पुलिस के मुताबिक, रमाई प्रसाद पांडे (45) एक सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर गोरेगांव में काम करते थे। जबकि उनकी पत्नी और दो बेटे उत्तर प्रदेश में रहते हैं। रमाई का बड़ा बेटा अजय पांडे कुछ महीनों पहले ही उनके साथ काम करने के लिए मुंबई आया था।

पुलिस की जांच में पता चला है कि अजय के पिता के साथ काम करने वाले लोगों ने उसे ताना मारते हुए कहा था कि उनका किसी महिला के साथ अफेयर चल रहा है। जिसके बाद शराब के नशे में अजय ने वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने स्क्रूड्राइवर और अजय के खून से सने कपड़ों को जब्त कर लिया है। मृतक का शव सड़क पर पड़ा हुआ देख राहगीरों ने इसकी सूचना पुलिस को दी थी।

पुलिस को आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वारदात से पहले उसका अपने पिता के साथ झगड़ा हुआ था। जिसके बाद उसने तीन बार स्क्रूड्राइवर से अपने पिता पर हमला किया। उसके साथ उसके दो दोस्त भी थे, सभी फिर वहां से भाग गए। पुलिस को शव के पास मृतक का मोबाईल फोन मिला था, जिसके बाद हत्या की गुत्थी सुलझी।

हालांकि पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में अजय पांडे ने अपना गुनाह कबूल नहीं किया है, और पुलिस को बस इतना बताया कि उसने अपने पिता से 500 रुपये मांगे थे और पैसे नहीं मिलने पर उसने शराब पी ली और सो गया। लेकिन पुलिस को पूरा यकीन है कि वो झूठ बोल रहा है। क्योंकि पुलिस ने घटनास्थल की सीसीटीवी फुटेज की जांच की है, जिसमें आरोपी अजय अपने पिता और तीन दोस्तों के साथ ऑटो रिक्शा लेते हुए दिख रहा है। लेकिन अजय ने पूछताछ में ऑटो रिक्शा का जिक्र नहीं किया है। 

Follow Us