गुरुग्राम हत्याकांड में एक और नया खुलासा

बीबीसीखबर, दिल्लीUpdated 05-07-2019
गुरुग्राम

 बीबीसी खबर

 

शांत, सरल स्वभाव के वैज्ञानिक डॉ. श्रीप्रकाश ने इस पूरे हत्याकांड को अंजाम देने से पहले कई दिनों तक यूट्यूब पर ऐसी क्राइम स्टोरीज देखी थी। इसी के जरिये उन्होंने आखिरकार अपने परिवार की हत्या की पूरी पटकथा रच डाली। वैज्ञानिक परिवार के घर पर काम करने वाली नौकरानी से पुलिस पूछताछ में कुछ ऐसी बातें पता चली हैं, जिसके आधार पर पुलिस इस कोण से भी जांच में जुट गई है। 

इस अनसुलझी वारदात को सुलझाने के लिए पुलिस ने घर में काम करने वाली नौकरानी से पूछताछ की। उन्होंने बताया कि करीब एक महीने से अधिक समय से डॉ श्रीप्रकाश अपने घर पर ही रहते थे। वह अपने चारों कुत्तों को बहुत प्यार करते थे। घर पर रहते हुए वह पिछले एक सप्ताह से दोपहर और शाम के समय इंटरनेट और यूट्यूब पर कुछ ऐसे विडियोज देखते थे। जो अपराध आधारित हो। हालांकि वो ऐसे विडियोज देखते हुए पहले कभी नहीं मिले। 

पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि वारदात में प्रयोग में लिया गया हथौड़ा भी कुछ ही दिन पहले उनके घर पर बाजार से लाया गया था। उनके घर पर फर्नीचर का काम कराया गया था इसमें कारपेंटर ने काम खत्म होने के बाद हथौड़ा वहीं छोड़ दिया। इसकी जानकारी श्रीप्रकाश को थी। लिहाजा वारदात के वक्त उसने बेटी अदिति द्वारा खरीदा गया मीट काटने वाला फरसा और हथौड़े का प्रयोग किया। 

पुलिस के आला अधिकारियों ने बताया कि इस वारदात के लिए अब तक जितने भी लोगों से पूछताछ की गई है उसमें यह सामने आया कि डॉ श्रीप्रकाश काफी शांत स्वभाव के थे। वे कभी किसी से तेज आवाज में बात तक नहीं करते थे। लेकिन हत्या की वारदात की बात लोगों को पच नहीं रही है।  

हालांकि पुलिस इस पूरे घटनाक्रम को एक साथ जोड़कर देख रही है जिसमें अंदेशा जताया जा रहा है कि पिछले कई दिनों से उनके दिमाग में ऐसी ही बातें चल रही थी। लिहाजा उन्होंने हत्या की साजिश रच ली थी। पुलिस डॉ श्रीप्रकाश समेत घर के कंप्यूटर और लैपटॉप को कब्जे में लेकर जांच पड़ताल कर रही है।

Follow Us