भारतीय खुफिया एजेंसी ने भारतीय सैन्य अधिकारियों को संदिग्ध व्हाट्सएप ग्रुप से सतर्क रहने की हिदायत दी

बीबीसीखबर, पाकिस्तानUpdated 09-07-2019
भारतीय

 बीबीसी खबर

भारतीय खुफिया एजेंसी ने भारतीय सैन्य अधिकारियों और उनके परिवार को किसी भी संदिग्ध व्हाट्सएप ग्रुप से सतर्क रहने की हिदायत दी गई है। खुफिया एजेंसी की सलाह पर सेना ने अपने सैन्य अधिकारियों को इसका खास ख्याल रखने की सलाह दी है। अधिकारियों का इशारा पाकिस्तान की तरफ है। 

सेना का कहना है कि अधिकारी निजता और गोपनीयता उजागर होने से बचें और किसी भी ऐसे व्हाट्सएप ग्रुप का हिस्सा न बनें जो उनकी विश्वसनीयता खतरे में डाल दे या सेना से संबंधित सूचना लीक हो। 

खुफिया एजेंसी का मानना है कि व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए पाकिस्तान की तरफ से सेना की जासूसी की लगातार कोशिश की जा रही है। एजेंसी का मानना है कि अधिकारी ऐसे ही कई व्हाट्सएप के जरिए हनी ट्रैप का शिकार हो जाते हैं। 

सेना को डर है कि उनके सैन्य अधिकारी किसी संदिग्ध व्हाट्सएप ग्रुप का शिकार न हों। इसलिए उनकी हिदायत है कि न तो अधिकारी ही किसी बड़े व्हाट्सएप ग्रुप का हिस्सा बनें और न अपने परिवार के किसी सदस्य को इसका शिकार होने दें।

Follow Us