हेरोइन की तस्करी हो रही ड्राई फ्रूट के सहारे

बीबीसीखबर, स्पॉटलाइटUpdated 24-07-2019
हेरोइन

 बीबीसी खबर

अफगानिस्तान के कंधार से इतनी भारी मात्रा में हेरोइन को ऐसे ही बॉर्डर पार करके यहां नहीं लाया गया था। बल्कि जिस तरह से हेरोइन को किशमिश के कार्टून में छुपाकर रखा गया था, उससे हर कोई चकमा खा सकता है। दिल्ली की इंटर स्टेट सेल क्राइम ब्रांच की टीम को भी हेरोइन के यहां छुपाए जाने का इसलिए पता चल गया कि उसने पहले ही पांच तस्करों को पकड़ लिया था। 

अगर किशमिश के कार्टून को कोई पूरी तरह से खोलकर भी देखता है तो उसके बाद भी हेरोइन के पैकेट दिखाई नहीं देते थे। दिल्ली पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के बताने पर जब कार्टून को खोला और उसके गत्ते फाड़कर हेरोइन को निकाला गया तो उसे देखकर पुलिस कर्मी भी चौंक गए। किशमिश को लाने के लिए पूरा कार्टून तैयार किया जाता है, जिसको गत्ते का बनाया जाता है। 

उसमें किशमिशन के पैकेट भरे जाते है, जिनको एक किलो का बनाया जाता है तो 16 पैकेट कार्टून में रखे जाते है। पैकेट को आधा किलो का बनाया जाता है तो 32 पैकेट कार्टून में भरे जाते है। किशमिश रखने के लिए गत्ते का कार्टून पहले ही हेरोइन तस्करी के लिए तैयार किया जाता है।

कार्टून के दोनों साइड में डबल गत्ता लगाया जाता है, जैसे कार्टून सामान्य तौर पर तैयार करने के बाद एक गत्ता अंदर भी लगाया जाता है और उसमें बीच में जगह रखी जाती है।

यह सबकुछ कार्टून बनाते हुए ही किया जाता है और उन दोनों गत्तों के बीच में हेरोइन रखी जाती है। उसके बाद ही मशीन से पूरा गत्ता फिट किया जाता है। कार्टून में हेरोइन छुपाने के बाद ही किशमिश रखी जाती है। इस तरह से किशमिश का कार्टून पहले ही तस्करी के लिए बनाया जाता है। 

कुंडली में जब कार्टून खोले गए तो उनमें हेरोइन नहीं मिली, लेकिन पहले से पकड़े गए आरोपियों के बताने पर कार्टून के गत्ते को अंदर की तरफ से किनारों से काटा गया तो उसमें से हेरोइन के पैकेट निकाले गए। इस तरह से बड़ी चालाकी के साथ हेरोइन की तस्करी ड्राईफ्रूट के सहारे हो रही है।

Follow Us