कानपुर में उपद्रव करने वाले 70 से अधिक उपद्रवी हुए बेनकाब

बीबीसीखबर, कानपुरUpdated 25-12-2019
कानपुर

 बीबीसी खबर

कानपुर के बाबूपुरवा और यतीमखाना में उपद्रव करने वाले 70 से अधिक उपद्रवी बेनकाब हो गए हैं। इन सभी उपद्रवियों की तस्वीरों के पोस्टर बनवाए गए हैं और दोनों इलाकों में लगवा दिए गए हैं। पुलिस ने इनको पकड़वाने की अपील की है। पुलिस की मदद करने वालों को इनाम भी दिया जाएगा। 

पुलिस लाइन में मंगलवार को डीएम, एसएसपी, एसपी पूर्वी, एसपी साउथ व सिटी मजिस्ट्रेट ने प्रेसवार्ता के दौरान उपद्रवियों के पोस्टर जारी किए। सोमवार देर रात पुलिस ने बाबूपुरवा के चार रॉड चौराहे और ईदगाह मैदान के पास 48 उपद्रवियों की फोटो समेत आठ-आठ पोस्टर चस्पा किए।

वहीं, बेकनगंज पुलिस ने 22 उपद्रवियों की पहचान कर पोस्टर बनवाए हैं, जो क्षेत्र में लगाए गए हैं। इसके साथ ही पुलिस का दावा है कि करीब पचास और उपद्रवियों की पहचान हो चुकी है। उनकी जल्द ही गिरफ्तारी की जाएगी। एसएसपी अनंत देव ने बताया कि हिंसा के दौरान अगर किसी की निजी संपत्ति का नुकसान हुआ है, तो वह व्यक्ति थाने में तहरीर दे सकता है।

नुकसान का आकलन कर उसकी भरपाई आरोपियों से कराई जाएगी। मंगलवार को कांग्रेस नगर अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री, पूर्व पार्षद इजरारुल अंसारी के साथ ईदगाह के पास पहुंचे। वहां क्षेत्रीय लोगों से बातचीत कर हालचाल जाना। पुलिस ने हिंसा भड़काने के शक में शहर के कई लोगों के मोबाइल नंबर कॉल रिकार्डिंग पर लगा रखे हैं।

उनकी बातचीत पुलिस सुन रही है। पुलिस जल्द ही कॉल रिकॉर्डिंग केआधार पर कुछ लोगों को उठा भी सकती है। बाबूपुरवा में मंगलवार को जिंदगी पटरी पर लौटती नजर आई। इलाके में लोगों ने सुबह से ही अपनी दुकानें खोलीं। बच्चे घरों के बाहर खेलते दिखे। लोग अपने अपने काम में मशगूल दिखे। 

Follow Us