एक ही परिवार के 3 सदस्यों की गला काटकर हत्या

बीबीसीखबर, क्राइमUpdated 23-01-2020
एक

 बीबीसी खबर

चंडीगढ़ में बुधवार की रात को एक ही परिवार के 3 सदस्‍यों की गला काटकर हत्‍या से सनसनी फैल गई। बताया जा रहा है कि मनीमाजरा इलाके में अज्ञात हमलावरों ने महिला और उसके दो बच्‍चों की गला काटकर हत्‍या कर दी। उधर, महिला के पति भी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। उन्‍हें पीजीआई में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने शव को कब्‍जे में लेकर हत्‍याकांड की जांच शुरू कर दी है।

पुलिस ने बताया कि रात में करीब दो बजे उन्‍हें मनीमाजरा में तीन लोगों के हत्‍या की सूचना मिली। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देखा तो ताला खुला हुआ था और शव को अपने कब्‍जे में लिया। मृतकों की पहचान सरिता (45), बेटा अर्जुन (16) और बेटी सांची (22) के रूप में हुई है। गंभीर रूप से घायल संजय अरोड़ा भी पीजीआई में भर्ती हैं।

पुलिस ने इस तिहरे हत्‍याकांड की जांच शुरू कर दी है। हत्‍याकांड के सिलसिले में पुलिस ने स्‍थानीय लोगों से पूछताछ की है। आसपास के घरों से सीसीटीवी फुटेज की पड़ताल की जा रही है। चंडीगढ़ पुलिस का दावा है कि जल्‍द ही इस पूरे मामले को सुलझा लिया जाएगा और हत्‍यारे सलाखों के पीछे होंगे। बताया जा रहा है कि संजय अरोड़ा का डेरी का व्‍यवसाय है।


मनीमाजरा इलाके में स्थित मॉडर्न हाऊसिंग कॉम्प्‍लेक्स में तिहरे हत्‍याकांड की यह घटना देर रात करीब डेढ़ बजे हुई। यहां मकान नंबर 5012 में मां सरिता और उनकी बेटी सांची और बेटा अर्जुन मरे हुए पाए गए। उनके गले तेजधार हथियार से रेते हुए थे। घर का मालिक संजय अरोड़ा भी संदिग्ध हालातों के बीच पीजीआई में दाखिल है। उसकी पंचकूला के सेक्टर 9 में डेयरी है जो उसने कर्मवीर को किराए पर दी हुई है।


पुलिस की प्रारंभिक छानबीन के अनुसार कर्मवीर ने पुलिस को बताया कि उसे रात 11 बजे फोन आया था कि संजय अरोड़ा की दुर्घटना हो गई है और वह पीजीआई में दाखिल है। इस सूचना पर वह पीजीआई चला गया और इस दौरान उसने संजय के घरवालों को फोन किया तो जवाब नहीं आया। कर्मवीर ने बताया कि जब वह हॉस्पिटल से संजय के घर पहुंचा तो घर खुला हुआ मिला। शक होने पर उसने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो अंदर खून से लथपथ तीन लाशें बरामद हुईं। सरिता, उनकी बेटी सांची और अर्जुन के गले रेते हुए थे।

Follow Us