हनुमान जी श्री राम जी के विशेष कृपा पात्र हैं

बीबीसीखबर, धर्मUpdated 10-02-2020
हनुमान

 बीबीसी खबर कानपुर

कानपुर गौशाला में स्थित साईं मंदिर में चल रही श्री राम कथा के छठवें दिन मानस मर्मज्ञ पंडित रामकिंकर महाराज जी के परम प्रिय शिष्य मानस मर्मज्ञ पंडित उमाशंकर व्यास जी ने बताया कि लंका के प्रमुख पर्वत पर बनी श्री राम की झांकी के विशिष्टता के संदर्भ में कथा ऋषि कहते हैं की झांकी में श्री हनुमान जी एवं अंगद भगवान के चरणों को गोद में रखकर उन्हें धीरे-धीरे दबा रहे प्रभु के पैर श्री हनुमान जी की गोद में है तथा लक्ष्मण के पैर अंगद जी की गोद में इसका तात्पर्य बताते हुए मानस मर्मज्ञ उमाशंकर व्यास जी कहते हैं कि वस्तुतः श्री हनुमान जी राम जी की कृपा के तथा अंगद जी लक्ष्मण की विशेष कृपा पात्र हैं।

कथा ऋषि उमाशंकर व्यास जी कहते हैं कि वह ऐसी कथा कहते हैं कि दुखियों का दुख तत्क्षण भाग जाए सीता जी को अशोक वाटिका में जब कथा सुनाते हैं तो सीता जी का दुख दूर हो जाता है श्री हनुमान जी जैसा ना कोई कथावाचक है और ना ही कोई श्रोता क्योंकि हनुमान जी भगवान जी से कहते हैं कि जब तक आप की कथा पृथ्वी पर रहेगी तब तक मैं इसी शरीर से कथा सुनूंगा। 

Follow Us