पुलिस का मुखबिर होने के शक में नक्सलियों ने की सरपंच के पति की हत्या

बीबीसीखबर, छत्तीसगढ़Updated 14-01-2021
पुलिस

 बीबीसी खबर

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित राजनांदगांव जिले से दर्दनाक घटना सामने आई है। जहां नक्सलियों ने एक सरपंच के पति की पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। अधिकारियों के अनुसार जिले के मानपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत परदौनी गांव में नक्सलियों ने बुधवार रात गांव की सरपंच सोनारो सलामे के पति मैनूराम सलामे (47) की मुखबिर होने के शक में पीट-पीटकर हत्या कर दी। 

 

उन्होंने बताया कि सरपंच के घर पर बुधवार रात को करीब 15 हथियारबंद नक्सली पहुंचे। उन्होंने सरपंच के पति मैनूराम को घर से बाहर निकाला और उसकी पिटाई शुरू कर दी। मैनूराम की पत्नी और बच्चों ने उसे छुड़ाने की कोशिश की। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मैनूराम की पीट-पीटकर हत्या करने के बाद नक्सली वहां से फरार हो गए। उन्होंने सरपंच के घर पर रखे ट्रैक्टर में आग लगाने की भी कोशिश की। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस घटनास्थल पहुंची और शव को बरामद किया।

 

 

उन्होंने बताया कि पुलिस ने घटनास्थल से एक पर्चा भी बरामद किया है, जिसमें नक्सलियों ने मैनूराम पर पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाया है और पिछले वर्ष मई महीने में परदौनी गांव में मुठभेड़ में चार नक्सलियों के मारे जाने के लिए उसे जिम्मेदार ठहराया है। मुठभेड़ के दौरान मदनवाड़ा के तत्कालीन थाना प्रभारी श्यामकिशोर शर्मा शहीद हुए थे।

 

उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है तथा नक्सलियों की तलाश जारी है। कुछ दिन पहले मानपुर के तातापानी इलाके में नक्सलियों ने एक युवक महेश कचलाम की भी मुखबिरी के शक में हत्या कर दी थी।

Follow Us