जो ट्रांसफार्मेशन कर पाएगा, वही सरवाइव कर पाएगा – प्रो. केजी सुरेश

बीबीसीखबर, मध्य प्रदेशUpdated 19-02-2021
जो

बीबीसी खबर

 बदलाव को हमें स्वीकार करना चाहिए । साथ ही अपनी मानसिकता और अपनी सोच में भी बदलाव लाना होगा । आज के समय में जो ट्रांसफार्मेशन कर पाएगा, वही सरवाइव कर पाएगा । माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय एवं भोपाल मैनेजमेंट एसोसिशन द्वारा प्रबंधन दिवस पर संयुक्त रुप से आयोजित कार्यक्रम में ये विचार विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.केजी सुरेश ने व्यक्त किए । एआईएमए 65 वें फाउंडेशन एवं 15 वें राष्ट्रीय प्रबंधन दिवस के अवसर पर ट्रांसफार्मिंग फॉर कम्युनिटी विषय पर आयोजित कार्यक्रम में एसोसिएशन ऑफ आल इंडष्ट्रीज मंडीदीप के अध्यक्ष श्री राजीव अग्रवाल ने भी अतिथि वक्ता के रुप में अपने विचार व्यक्त किए । इस मौके पर शिक्षा के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए भोपाल मैनेजमेंट एसोसिशन द्वारा कुलपति प्रो. सुरेश को सम्मानित किया गया । विश्वविद्यालय के मीडिया प्रबंधन विभाग द्वारा दिसंबर 2020 में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय कांफ्रेस में प्रस्तुत शोध-पत्रों की पुस्तक एवं प्रबंधन वाणी का भी इस अवसर पर विमोचन किया गया ।

            मैनेजमेंट सप्ताह के अतंर्गत आयोजित इस कार्यक्रम में कुलपति प्रो. सुरेश ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें कन्फर्ट जोन से बाहर निकलना होगा । सीमित दुनिया से बाहर निकलकर हमें व्यापक द्रष्टिकोण से देखना होगा । विश्वविद्यालय के माणिकचंद वाजपेयी सभागार में उन्होंने रिफार्म और ट्रांसफार्मेशन के अंतर को भी समझाया । प्रो.सुरेश ने कहा कि अंदर से जो बदलाव आता है, वही ट्रांसफार्मेशन है । उन्होंने कहा कि ट्रांसफार्मेशन के लिए उद्देश्य के साथ ही नियत का होना भी बहुत जरुरी है । बीएमए के कार्यों की प्रशंषा करते हुए प्रो. सुरेश ने कहा कि विश्वविद्यालय अब भोपाल मैनेजमेंट एसोसिएशन का लाइफ टाइम मेंबर होगा । उन्होंने लाइफ टाइम मेंबरशिप की घोषणा की ।

            एसोसिएशन ऑफ आल इंडष्ट्रीज मंडीदीप के अध्यक्ष श्री राजीव अग्रवाल ने कहा कि बदलाव अच्छे के लिए होता है, इसलिए हमें डरना नहीं चाहिए । उन्होंने कहा कि जिंदगी में कोई भी बदलाव एक दिन में नहीं आता है, लेकिन लगातार करते रहने से बदलाव जरुर आता है । उन्होंने विद्यार्थियों से कहा आपको हर दिन कुछ-न-कुछ नया सीखना चाहिए । श्री अग्रवाल ने चेन्ज और ट्रांसफार्मेशन के अंतर को भी समझाया । उन्होंने कहा कि चेन्ज थोड़े समय के लिए होता है । उन्होंने कहा कि शिकायत करना और रोना छोड़कर यदि अपनी ऊर्जा का उपयोग सकारात्मक कार्यों में करेंगे, तो आप बड़ा बदलाव ला सकते हैं । श्री अग्रवाल ने नकारात्मक लोगों से दूरी बनाने एवं सकारात्मक लोगों के साथ रहने का गुरुमंत्र भी विद्यार्थियों को दिया ।

            भोपाल मैनेजमेंट एसोसिशन एवं विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में बीएमए के पदाधिकारी भी उपस्थित हुए । कार्यक्रम का संचालन श्री आर.जी.द्विवेदी ने किया । आभार प्रदर्शन श्री विश्वास भुषे द्वारा किया गया । कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो. अविनाश वाजपेयी, सभी विभागों के विभागाध्यक्ष, शिक्षक, अधिकारी, कर्मचारी एवं विद्यार्थी भी उपस्थित थे।

Follow Us