भक्तों की रक्षा के लिए भगवान हमेशा हैं तैयार

बीबीसीखबर, कानपुरUpdated 24-02-2021
भक्तों

 बीबीसी खबर

साईं धाम मंदिर जूही गौशाला के पार्क में आयोजित श्री राम कथा ज्ञान यज्ञ में प्रभु के विभिन्न अवतारों के बारे में चर्चा करते हुए मानस कथा ऋषि उमाशंकर व्यास जी ने कहा कि भगवान के अवतार के अनेक कारणों में से एक कारण बैकुंठ के दो द्वारपाल जय और विजय को शाप मिलने के कारण हुआ भगवान को यद्यपि अवतार लेने की आवश्यकता नहीं थी तथापि पे इतने कृपालु हैं कि जब मेरे सेवकों को मुनियों द्वारा शाप दिया गया तो उससे मैं भी अपराध बोध मानता हूं और उन्होंने मुनियों को बताया कि यदि मेरे यह दोनों सेवक 3 जन्मों तक मृत्युलोक में जन्म लेंगे शाप के कारण तो मैं 4 बार इनके लिए जन्म लेकर इनको इनका स्थान पुनः प्राप्त करांऊगा इसी क्रम में कथा ऋषि अपने भक्तों के प्रभाव का भी दर्शन कराते हुए कहते हैं कि अपने भक्तों की रक्षा के लिए मैं भक्त के कहने के अनुसार पत्थर के खंभे से प्रकट हो जाते हैं और भक्तों की रक्षा करते हैं।

Follow Us